टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड ऋषिकेश में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ स्वछता पखवाड़ा

टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) के निदेशक (तकनीकी) श्री एच.एल. अरोड़ा ने टीएचडीसी के कॉरपोरेट कार्यालय, ऋषिकेश में स्वसच्छ)ता पखवाड़े के समापन अवसर पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित किया व स्वच्छ भारत अभियान में निगम के योगदान पर प्रकाश डाला। उल्लेरखनीय है कि टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड में 16 से 31 मई, 2018 तक आयोजित स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन किया गया। 16 मई को इसके शुभारंभ के अवसर पर निदेशक (वित्त) श्री श्रीधर पात्र द्वारा निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई गयी तथा निदेशक (कार्मिक) श्री विजय गोयल ने हरी झंडी दिखाकर गंगा भवन गेट से 02 मिनी ट्रक भरकर स्वच्छता सामग्री टिहरी विस्थापित क्षेत्र पथरी तथा इंदिरा नगर कालोनी, ऋषिकेश के ग्राम सभा के मध्य वितरण हेतु रवाना कि   गई। इसमें स्वच्छ पेयजल हेतु वाटरकूलर, फ्रिज, कूडेदान आदि प्रदान किया गया। स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत टीएचडीसी के विभिन्न परियोजना स्थल ऋषिकेश, टिहरी, पीपलकोटी, कोटेश्वर, खुर्जा एंव ढुकवां में साफ सफाई के साथ स्वच्छ्ता जागरूकता कार्यक्रम नुक्कपड नाटक आदि कार्यक्रम आयोजित किये गये। स्व‍च्छखता पखवाड़े के अंतर्गत टीएचडीसी के पर्यावरण विभाग द्वारा ऋषिकेश रेलवे स्टेशन में नुक्कतड नाटक का आयोजन किया गया जिसमें तम्बाकू सेवन व धूम्रपान से होने वाले दुष्पारिणामों व उसके बचाव से अवगत कराया। इसके अतिरिक्तछ 22 मई, 2018 को अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के उपलक्ष्यि में रा. मा. विद्यालय, ऋषिकेश के वनस्पति विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ वी.डी. पांडये के ब्याख्यान का आयोजन भी टीएचडीसी द्वारा किया गया । इस अवसर पर श्री एच.एल. भारज, कार्यपालक निदेशक (सेवायें तथा सामाजिक व पर्यावरण), श्री मुहर मणि, महाप्रबन्ध क (ओ.एम.एस.) सहित कॉरपोरेशन के अनेक वरिष्ठ अधिकारीगण व कर्मचारीगण उपस्थिेत रहे। टिहरी व कोटेश्वशर जल विद्युत परियोजनाओं तथा गुजरात के पाटन व द्वारका में पवन ऊर्जा परियोजनाओं की कमीशनिंग के उपरांत टीएचडीसी की कुल संस्थानपित विद्युत क्षमता 1513 मेगावाट हो गयी है। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड देश का प्रमुख विद्युत उत्पाादक संस्था्न होने के साथ ही एक मिनी-रत्नह (कटेग्री-प्रथम) व शेड्यूल ‘ए’ दर्जा प्राप्त संस्था्न है ।